मेरठ, सरधना में एक गांव में दलित और मुस्लिमो दंगो

meerut riots.JPG

महीने भर पहले, सहारनपुर में दलित और मुस्लिम ने एकता का सबूत देते हुए राजपूतो के खिलाफ दंगो को अंजाम दिया था।
जिसके बाद में राजनितिक तार भी मिले और उसका एक फ़र्ज़ी सरगना भी पकड़ा गया था।

मुद्दा इतना गरमाया था की महीने भर मीडिया ने कवरेज देकर UP सरकार को कोसा था।
अब इस बुधवार यानि परसो की एक खबर सुनो।
जहा मेरठ, सरधना में एक गांव में फिर से दलित और मुस्लिमो ने जय भीम जय मीम के नाम से मैत्री क्रिकेट मैच रखा था।
अंजाम ये हुए की दोनों आपस में इस कदर लड़ पड़े की मामला पंचायत तक पहुंच गया।
जब पंचायत हुई तो मुस्लिम समुदाय के लोगो ने फायरिंग शुरू कर दी ।
जिसमे दलित समाज से एक महिला की मृत्यु हो गई और काफी लोग घायल भी हो गए।
इस घटना को ना तो मीडिया ने दिखाया है, न कोई नेता कुछ बोलेगा,क्यों की दोनों ही पक्ष वोट बैंक है।
तो विरोध में किसके बोले और पक्ष में किसके।

न भीम सेना का कुछ पता है, अपने ही गांव में दलितों को दौड़ा दौड़ा कर मारा गया है, पूरा गांव छावनी में तब्दील है।
पर सब चुप है, हिन्दू समाज का कोई और इस पर सिर्फ इस लिए नहीं बोल रहा क्यों की ये भीम और मीम का मैत्री मैच था।
नारा था जय भीम जय मीम।

इसलिए आज ये हाल हुआ है वहां दलित हिन्दुओ का।

अभी भी वक़्त है, नारा लगाओ “धर्म रक्षति रक्षितः” का।
नहीं तो न जाने कब पीठ पर खंजर खा जाओ गए, जिसके चलते अपना अस्तित्व और धर्म कुछ भी नहीं बचा पाओगे।

कही मीम के चक्कर में घर और घाट दोनों से हाथ न धो बैठना।

#धर्म_रक्षति_रक्षितः

Advertisements
Categories:

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s